UDID – Unique Disability ID card (UDID Registration)

केंद्र सरकार
Share

What is UDID card or Unique Disability ID Card?

UDID Card – क्या है यूडीआईडी कार्ड? विकलांग लोगों को UDID (यूडीआईडी), या Unique Disability ID Card दिए जायेंगे। यह कार्ड विकलांग व्यक्तियों के अधिकारिता विभाग द्वारा जारी किया जाता है। कोई भी नागरिक जिसके पास यह (UDID) कार्ड है, वह उन सभी सरकारी कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए पात्र होगा जो उन्हें उपलब्ध कराए गए हैं। इसके अलावा, सरकार के पास प्रत्येक विकलांग व्यक्ति का एक डेटाबेस होगा, जो उसे विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम बनाने और संचालित करने में सहायता करेगा।

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय इस योजना का क्रियान्वयन करेगा। सभी विकलांग लोगों से विशेष विकलांगता आईडी (UDID) के लिए आवेदन करने का आग्रह किया जाता है। एक सफल आवेदन के बाद, प्राप्तकर्ता को एक विशेष विकलांगता आईडी कार्ड (UDID) के रूप में जाना जाने वाला कार्ड मिलेगा। इसके अतिरिक्त, कई सरकारी कार्यक्रमों के लाभों तक पहुंचने के लिए इस कार्ड का उपयोग एक आवश्यक दस्तावेज के रूप में किया जाएगा।

UDID (यूडीआईडी कार्ड) का उद्देश्य

विकलांग लोगों का एक राष्ट्रीय डेटाबेस बनाए रखना और प्रत्येक व्यक्ति को एक विशेष विकलांगता पहचान पत्र प्रदान करना यूडीआईडी कार्ड (UDID) का प्रमुख लक्ष्य हैं। यह योजना विकलांग लोगों को विभिन्न सरकारी लाभों के वितरण में आसानी, प्रभावशीलता और सरलता को बढ़ावा देगी।

यह UDID कार्ड प्राप्तकर्ताओं के समग्र वित्तीय और भौतिक विकास की निगरानी करना भी आसान बना देगा। डेटाबेस विकलांग लोगों के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम बनाने और संचालित करने में सरकार की सहायता करेगा। इस UDID कार्ड का इस्तेमाल पूरे भारत में किया जाएगा।

UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड) की विशेषताएं और लाभ

  • विकलांग लोगों को यूडीआईडी(UDID), या विशेष विकलांगता आईडी नामक कार्ड दिए जायेंगे।
  • यह कार्ड विकलांग व्यक्तियों के अधिकारिता विभाग द्वारा जारी किया जायेगा।
  • कोई भी नागरिक जिसके पास यह UDID कार्ड है, वह उन सभी सरकारी सुविधाओं से लाभान्वित हो सकेगा जो उनके पक्ष में की गई हैं।
  • सभी विकलांग लोगों का एक व्यापक डेटाबेस सरकार के पास उपलब्ध होगा, जो विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों को बनाने और संचालित करने में सहायता करेगा।
  • अब चूंकि यह कार्ड सभी आवश्यक तथ्यों को एकत्रित कर लेगा और इसे रीडर की सहायता से डिकोड किया जा सकता है, विकलांग लोगों को अब अलग-अलग कागजात की कई प्रतियां प्रस्तुत करने और उन्हें रखने और ले जाने के लिए बाध्य नहीं किया जायेगा।
  • यह कार्ड भविष्य में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों से लाभ प्राप्त करने के लिए पहचान और सत्यापन के लिए एकल दस्तावेज के रूप में काम करेगा।
  • इस कार्ड के उपयोग से लाभार्थी के समग्र वित्तीय और शारीरिक विकास को ट्रैक किया जा सकता है।
  • एक समेकित ऑनलाइन गेटवे के माध्यम से, यूडीआईडी ​​कार्ड देश भर में विकलांग व्यक्तियों के डेटा को सुलभ बनाएंगे।
  • पंजीकरण के लिए आवेदन नागरिकों द्वारा पूरा किया जा सकता है और ऑनलाइन जमा किया जा सकता है।
  • संगठन कागज पर जमा किए गए आवेदनों को स्वीकार और स्कैन भी करेंगे।
  • इंटरनेट के माध्यम से, नागरिक आसानी से जानकारी का नवीनीकरण और संशोधन कर सकते हैं।
  • इसके अतिरिक्त, यह कार्ड डेटा की कॉपी से बचने में सहायता करेगा।

UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड) के लिए पात्रता और आवश्यक दस्तावेज़

  • आवेदक भारत का स्थाई नागरिक हो।
  • आवेदक विकलांग होना चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड।
  • आवेदक का राशन कार्ड।
  • आवेदक का आय प्रमाण पत्र।
  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र।
  • आवेदक का जाति प्रमाण पत्र।
  • आवेदक का पासपोर्ट फोटो।
  • आवेदक का मोबाइल नंबर।

UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड) और विकलांगता प्रमाणपत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • होम पेज पर आपको “Apply for disability certificate and UDID” वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब इस नए पेज पर आपको निम्नलिखित जानकारी भरनी होगी:-
    • व्यक्तिगत विवरण
    • स्थाई पता और पत्राचार का पता
    • शैक्षिक विवरण
    • विकलांगता विवरण
    • रोजगार की विस्तृत जानकारी
    • पहचान विवरण
  • अब आपको सभी आवश्यक कागजात जमा करने होंगे।
  • अब सबमिट कर दें। (Click on Submit option)
  • आप इस प्रक्रिया को पूरा करके विकलांगता प्रमाण पत्र और यूडीआईडी कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड) और विकलांगता प्रमाण पत्र का नवीनीकरण कैसे करें?

  • यूनिक डिसेबिलिटी आईडी (UDID ) के आधिकारिक वेबपेज पर जाएं।
  • अब आपको option “Apply for disability certificate and UDID Renewal” वाले ऑप्शन पर के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब इस नए पेज पर आपको निम्नलिखित जानकारी भरनी होगी:-
    • नामांकन संख्या
    • यूडीआईडी कार्ड नंबर
    • ईमेल आईडी
    • मोबाइल नंबर
    • आवेदक का नाम
    • आवेदक पिता का नाम
    • जन्म की तारीख
    • पता
    • समाप्ति तिथि
    • विकलांगता प्रकार
    • कैप्चा कोड
  • अब सबमिट कर दें। (Click on Submit option)
  • इस तरह आप विकलांगता प्रमाण पत्र और अपने यूडीआईडी (UDID) कार्ड के नवीनीकरण (Renewal) के लिए आवेदन कर सकते हैं।

खोए हुए UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड)  के लिए आवेदन प्रक्रिया क्या है

  • यूनिक डिसेबिलिटी आईडी (UDID ) के आधिकारिक वेबपेज पर जाएं।
  • आपके सामने होम पेज पर पर “Apply for lost UDID card” वाला ऑप्शन चुनना होगा।
  • आपको इस नए पेज पर अपना नामांकन नंबर, यूडीआईडी कार्ड नंबर और जन्मतिथि दर्ज करनी होगी।
  • अब सबमिट कर दें। (Click on Submit option)
  • इस तरह आप गुम हुए UDID कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड) का ​​आवेदन का स्टेटस कैसे देखें ?

  • यूनिक डिसेबिलिटी आईडी (UDID ) के आधिकारिक वेबपेज पर जाएं।
  • आपके सामने होम पेज पर पर आपको “Track your application status” वाला ऑप्शन चुनना होगा।
  • आपको इस नए पेज पर अपना नामांकन, यूडीआईडी, अनुरोध, मोबाइल और आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • फिर आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर आवेदन की स्थिति दिखाई देगी, और आपको गो पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप अपने आवेदन की स्थिति (Application Status) देख सकते हैं।

अपना UDID (यूडीआईडी ​​कार्ड) और ई-विकलांगता कार्ड कैसे डाउनलोड करें?

  • यूनिक डिसेबिलिटी आईडी (UDID ) के आधिकारिक वेबपेज पर जाएं।
  • आपके सामने होम पेज पर पर आपको “Download your e-disability card and e-UDID” वाले लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक लॉगिन पेज खुलेगा।
  • आपको इस पेज पर अपना Registration Number (नामांकन संख्या), जन्म तिथि और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद, आपको “लॉगिन” चुनना होगा।
  • अब डाउनलोड वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • आपका स्मार्टफोन या कंप्यूटर आपका ई-विकलांगता कार्ड और ई-यूडीआईडी कार्ड (UIDI) डाउनलोड कर देगा।

UDID (यूडीआईडी कार्ड) कांटेक्ट इनफार्मेशन

Email- vikash.prasad@nic.in

Helpline Number- 011-24365019

Leave a Reply

Your email address will not be published.