उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लाभ कैसे पाएं?

उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लाभ कैसे पाएं?

Share

Uttarakhand Mukhyamantri Mahalakshmi Kit Yojana – उत्तराखंड सरकार ने महिला और बालिका विकास को ध्यान में रखते हुए राज्य में उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना (Uttarakhand Mukhyamantri Mahalakshmi kit Yojana) की शुरुआत करने की घोषणा की है जिसके तहत राज्य में बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहित किया जाएगा जिससे उनकी अच्छी देखभाल हो सके उत्तराखंड सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के बारे में विशेष जानकारी तथा कैसे योजना का लाभ लें तथा योजना का लाभ लेने के लिए क्या-क्या आवश्यक करते हैं इसके बारे में आईये विस्तार से जानते हैं।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना क्या है?

बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहित करने के लिए उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा एक सराहनीय कदम उठाया गया है। जिसके तहत उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना (Uttarakhand Mukhyamantri Mahalakshmi Kit Yojana) के शुभारंभ की घोषणा की गई है। इस योजना का लाभ 30 जून 2021 से मिलना शुरू हो जाएगा।

इसके लिए सरकार द्वारा घोषणा पत्र जारी किया जाएगा। उत्तराखंड में मौजूदा महिला पुरुष लिंग अनुपात में असमानता है, जिसमें प्रति 1000 पुरुषों पर 950 महिलाएं हैं, इसे सुधारने के लिए सरकार ने बालिकाओं के जन्म को परिवार पर बोझ ना समझने के लिए बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहन प्रदान किया जा रहा है।

जिसके तहत मां तथा बच्चे को सुरक्षा किट प्रदान की जाएगी इस सुरक्षा किट की कीमत लगभग ₹3500 है। जिसमें एक किट माँ को तथा एक बच्चे को प्रदान की जाएगी।

यदि किसी के यहां दो जुड़वा बालिकाओं का जन्म होता है तो भी सरकार द्वारा 1 किट मां को तथा 1 – 1 किट दोनों बालिकाओं को प्रदान की जाएगी। साथ ही यह भी बताया गया कि इस योजना का लाभ दो बालिकाओं के जन्म तक ही दिया जाएगा।

तीसरी बालिका के जन्म पर इस योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा। परंतु यदि दो जुड़वा बालिकाओं का जन्म एक साथ हो जाता है तो उस अवस्था में 3 बालिकाओं के लिए सरकार द्वारा मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लाभ दिया जाएगा।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लक्ष्य क्या है?

महालक्ष्मी किट योजना को शुरू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य मां तथा बच्चे को सुरक्षा प्रदान करना है। तथा राज्य में बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहित करना है। यह देखा गया है कि कई बार बालिका के जन्म होने की वजह से मां को तथा बच्चे को परिवार के द्वारा उचित देखभाल नहीं दी जाती है जिसकी वजह से दोनों की जान को खतरा हो सकता है।

इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने माँ तथा बच्चे को सुरक्षा किट प्रदान करने की योजना शुरू की है, जिसके तहत मां तथा जन्म लेने वाली बालिका को महालक्ष्मी सुरक्षा किट दी जाएगी। जिससे दोनों को सुरक्षा कवच मिल सकेगा।

राज्य में महिला तथा पुरुष लिंग अनुपात में काफी समानता है, इसका मुख्य कारण यही है कि बालिका के जन्म होने पर जच्चा-बच्चा को सही देखभाल नहीं मिलती।

सरकार के इस कल्याणकारी योजना को शुरू कर देने के बाद राज्य में धीरे-धीरे महिला पुरुष लिंग अनुपात में काफी सुधार आएगा तथा समाज की सोच भी बदलेगी और माँ तथा बच्चे को सुरक्षा और प्यार की अनुभूति प्रदान होगी।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट में क्या-क्या सामग्री है?

उत्तराखंड महालक्ष्मी किट योजना के तहत बालिका के जन्म पर मां तथा बच्चे को सरकार द्वारा महालक्ष्मी सुरक्षा किट प्रदान की जाएगी। इस किट की कीमत लगभग ₹3500 होगी तथा इस किट में मां के दिए हैंड वाश, साबुन, नेल कटर, मौजे, सूट, साड़ी, बादाम तथा छुहारे जैसी आदि अन्य सामग्री तथा साथ ही जन्म लेने वाली बच्ची के लिए भी सरकार द्वारा एक किट तैयार की गई है जिसमें बच्ची के लिए तेल, साबुन, सूती कपड़ा, कंबल और तोलिया आदि सामग्री शामिल की गई है।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लाभ पाने के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है?

जो भी मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लाभ पाना चाहते हैं उनके लिए सरकार द्वारा कुछ जरूरी दस्तावेजों की सूची दी गई है जो इस प्रकार है-

  • योजना का लाभ लेने के लिए अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र पर पंजीकरण कराना अनिवार्य है, पंजीकरण के बाद ही योजना का पूरा लाभ प्रदान किया जाएगा, इसके साथ ही
  • मां तथा बच्चे के कार्ड की प्रति
  • प्रसव एवं जन्म का प्रमाण पत्र (जो हॉस्पिटल द्वारा या आशा वर्कर द्वारा दिया जाएगा)
  • परिवार रजिस्टर की नकल
  • इनकम टैक्स दाता ना होने का प्रमाण पत्र

उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना का लाभ कैसे पाएं?

यदि आप भी उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का लाभ पाना चाहते हैं तो आज अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र पर जाकर अपना पंजीकरण कराएं तथा आवश्यक दस्तावेज तैयार रखें। बाकी की जानकारी आपको आंगनवाड़ी केंद्र पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता या आशा कार्यकर्ता के द्वारा दे दी जाएगी।

उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा 30 जून 2021 से मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट योजना की शुरुआत कर दी जाएगी। योजना के शुरुआती चरण में 16929 लाभार्थियों को वर्चुअल (ऑनलाइन) जोड़कर उन्हें महालक्ष्मी सुरक्षा किट प्रदान की जाएगी। सरकार द्वारा यह भी सुनिश्चित किया गया है कि योजना के लिए सब को जागरूक किया जाएगा तथा प्रत्येक महिला और बालिका को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र में जाकर आज ही अपना पंजीकरण करवाएं। योजना के संबंध में अधिक जानकारी के लिए आप अपने आंगनवाड़ी केंद्र से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या आशा कार्यकर्ता भी आपको योजना के बारे में जानकारी प्रदान कर सकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *