Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021 (गुजरात व्हाली दीकरी योजना 2021)

Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021 (गुजरात व्हाली दीकरी योजना 2021)

Share

Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021 (गुजरात व्हाली दीकरी योजना 2021) –

Gujrat Vahli Dhikro Yojana 2021 का शुभारंभ गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी जी ने राजकोट में किया। उन्होंने कहा कि राज्य में असमान लिंगानुपात संतुलित करने और और बेटियों के जन्म दर को बढ़ाने के उद्देश्य से इस योजना का शुभारंभ किया है। और उन्होंने यह भी बताया कि इस योजना के अंतर्गत चालू वर्ष के बजट में 133 करोड़ का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया की राज्य में जन्म लेने वाली प्रत्येक बालिका को व्हाली दीकरी योजना (Gujarat Vahli Dikri Yojana) का लाभ मिलेगा। जब कोई छात्रा चौथी कक्षा में प्रवेश लेगी उस वक्त उसको 4000  रुपए की धनराशि मिलेगी, इसके बाद जब वह छात्रा नवमी कक्षा में प्रवेश लेगी तब उसको 6000 रुपए की धनराशि मिलेगी, जब वह छात्रा 18 वर्ष की हो जाएगी तब राज्य सरकार उसको 100000 रुपए की धनराशि प्रदान करेगी। इस धनराशि का उपयोग वह अपनी उच्च शिक्षा या अपने विवाह के लिए कर सकेगी। मुख्यमंत्री जी ने बेटी के जन्म का स्वागत करने का अनुरोध लोगों से किया और कहा कि कन्या भ्रूण हत्या को सरकार हरगिज बर्दाश्त नहीं करेगी ऐसा करने वाले लोगों को सरकार सख्त से सख्त सजा देगी।

Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021

2001 की जनगणना के 18  साल बाद एक बदसूरत सामाजिक पहलू सामने आया है 2011 की जनगणना के अनुसार प्रति 1000 पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या 919 ही है। नीति आयोग की ताजा रिपोर्ट की मानें तो देश के 17 राज्यों में जन्म के समय सेक्स रेश्यो यानी पुरुष – महिला लिंगानुपात में भारी गिरावट दर्ज की गई है। रिपोर्ट में दी गई जानकारी के अनुसार देखें तो गुजरात में सबसे अधिक प्रति 1000 पुरुष पर 53 महिलाओं की गिरावट दर्ज की गई है। यहां 2012-14  मे प्रति 1000  पुरुषों पर 907  महिलाएं थी और 2013-15 में यह आंकड़ा गिरकर 854 हो गया था।

भारत सरकार द्वारा वर्ष 1994 में प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम बनाया गया जो 1996 में पूरे देश में लागू किया गया। लगातार लड़कियों की कम हो रही संख्या इस बात को दर्शाती है कि लड़कियों को पेट में ही मार दिया जाता है जब तक चिकित्सकीय तकनीक के गलत प्रयोग पर सख्त  कदम नहीं उठाए जाएंगे तब तक इस स्थिति में सुधार होना नामुमकिन है।

अल्ट्रासाउंड तकनीक से मुनाफा कमाने में सिर्फ चिकित्सक ही नहीं बल्कि गैर चिकित्सकों, टेक्नीशियन, कंपाउंडर भी शामिल है । इस तकनीक का इस्तेमाल ग्रामीण इलाकों में ज्यादा किया जाता है अगर इस पर सख्ती से नकेल नहीं कसी गई तो हमें इसके दुष्परिणाम 2021 की जनगणना में देखने को मिलेंगे।

गुजरात व्हाली दीकरी योजना का उद्देश्य क्या है? (Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021)-

इस योजना के लागू होने से लड़कियों के जन्म दर में वृद्धि होगी और महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा। समाज में आज भी ऐसे लोग मौजूद हैं जिनका मानना है की लड़का माता-पिता का सहारा बनेगा और  बेटियों को वो पराया धन मानते हैं हमें ऐसी सोच को बदलना होगा तभी हम एक भेदभाव मुक्त समाज का निर्माण कर सकेंगे।

इस योजना के लागू होने से ऐसे लोगों की सोच में सुधार आएगा और जब सरकार बेटियों की आर्थिक रूप से मदद करेगी तो वह और आगे बढ़ेंगी  और अपना और अपने परिवार का नाम रोशन  करेंगी। जब तक समाज में लड़की को लड़के के बराबर नहीं समझा जाएगा तब तक हमारा समाज प्रगति नहीं कर पाएगा हमें इस बात को समझना ही होगा। इस प्रक्रिया में गुजरात सरकार का यह एक छोटा सा कदम है जो एक दिन मील का पत्थर साबित होगा और समाज में उनको बराबरी का हक मिलेगा।

गुजरात व्हाली दीकरी योजना प्रोत्साहन राशि( Gujarat Vahli Dikri Yojana Incenttive Amount)-

इस योजना के अनुसार सरकार लाभार्थी को तीन बार में  110000  रुपए की धनराशि तीन किस्तों में भुगतान करेगी  जो कि निम्न प्रकार है-

  1. लाभार्थी को इस योजना की पहली किस्त तब मिलेगी जब वह छठी कक्षा में प्रवेश लेगी तब उसको  सरकार की तरफ से 4000  रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  2.  लाभार्थी को इस योजना की दूसरी किस्त तब मिलेगी जब वह नवमी कक्षा में प्रवेश लेगी तब उसको सरकार की तरफ से 6000  रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  3.  लाभार्थी को इस योजना की तीसरी किस्त तब मिलेगी जब वह 18  साल की हो जाएगी तब उसको सरकार की तरफ से 1 लाख रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी।

Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021 (गुजरात व्हाली दीकरी योजना 2021)

गुजरात व्हाली दीकरी योजना 2021 का लाभ लेने के लिए पात्रता (Eligibility for Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021)-

  • लाभार्थी गुजरात का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ किसी परिवार की दो ही बालिकाओं को मिलेगा।
  • लाभार्थी के परिवार की वार्षिक आय 200000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।

गुजरात व्हाली दीकरी योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज (Documents required to take advantage of the Gujarat Vahli Dikri Yojana 2021)-

  • आधार कार्ड (Adhar Card).
  • पैन कार्ड (PAN Card).
  • राशन कार्ड (Ration Card).
  • आय प्रमाण पत्र (Income Related Documents).
  • जाति प्रमाण पत्र (Cast Certificate).
  • बैंक पासबुक (Bank Passbook).
  • पासपोर्ट साइज फोटो (Passport Size Photo).

 गुजरात व्हाली दीकरी योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?***

  • सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • योजना से संबंधित जानकारी को ध्यान से पढ़ें।
  • अब आपके सामने ऑनलाइन आवेदन का फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपको मांगी गई जानकारी को सही सही भरना होगा।
  • आवश्यक दस्तावेजों को इसके साथ संलग्न करें ।
  • अब अपने  फॉर्म को अंतिम रूप से चेक करें और इसको सबमिट कर दें।

***ऑनलाइन आवेदन के लिए सरकार की तरफ से इस योजना में अभी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है जैसे ही हमें कोई जानकारी मिलेगी वैसे ही हम इस पोस्ट को अपडेट करेंगे। इस के लिए आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रहें।

Leave a Reply