ई-संजीवनी ओपीडी योजना (e-Sanjeevani OPD)

ई-संजीवनी ओपीडी योजना (e-Sanjeevani OPD)

Share

संजीवनी ओपीडी योजना (e-Sanjeevani OPD) केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई योजना है। ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD) योजना के तहत सरकार ने डिजिटल टेलीमेडिसिन (Digital Telemedicine) की सेवा प्रारंभ की है। ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD) योजना के तहत ऑनलाइन .पी.डी. (ऑनलाइन परामर्श) की सुविधा प्रदान की गई है। जिसके तहत डॉक्टर से ऑनलाइन परामर्श लेने की सुविधा देशवासियों को प्रदान की गई है। सरकार द्वारा यह एक सराहनीय प्रयास है। हम आपको ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD योजना से सम्बंधित पूरी जानकारी अपने इस आर्टिकल के माध्यम से प्रदान करेंगे आप अंत तक इसे पढ़ें।

संजीवनी ओपीडी योजना क्या है?

ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD) योजना के माध्यम से देशवासी डिजिटल तरीके से यानी ऑनलाइन माध्यम से डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। योजना के नाम से ही पता चल रहा है की  इस योजना में इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन परामर्श लिया जा सकेगा। ई-संजीवनी योजना (e-Sanjeevani OPD सरकार द्वारा देश में अपनी तरह की पहली योजना है।

ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD या ऑनलाइन ओ.पी.डी. सुविधा प्रदान करेगी जिससे डॉक्टर से ऑनलाइन मिला सकेगा। ई-संजीवनी योजना को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा नेशनल टेलिकंसल्टेंट सर्विसेज के तहत चलाया गया है।

संजीवनी ओपीडी का उद्देश्य क्या है?

नेशनल टेलिकंसल्टेंट सर्विसेज (National Tele-consultancy Services) का ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD) योजना के माध्यम से यह उद्देश्य है की जरूरतमंदो को घर पर ही डॉक्टर का परामर्श उपलब्ध करवाया जाये। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये डॉक्टर अपने हॉस्पिटल से और रोगी अपने घर से ही आपस में जुड़ सकेंगे तथा पूरी कंसल्टेंसी (परामर्श) प्राप्त कर सकेंगे।

जरूरतमंदो को घर पर ही आवशयक सलाह ऑनलाइन माध्यम से पहुंचना इस योजना का उद्देश्य है।

संजीवनी ओपीडी का लाभ क्या है?

ई-संजीवनी (e-Sanjeevani OPD) योजना सरकार द्वारा ऑनलाइन ओ.पी.डी. सुविधा प्रदान करने वाली अपनी तरह की पहली योजना है। योजना के तहत पूरे देशवासियों को इस योजना का लाभ मिलेगा। ई-संजीवनी योजना के तहत व्यक्ति को परामर्श लेने के लिए हॉस्पिटल के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे और ना ही लम्बी लाइन में बैठ कर अपनी बारी का इंतज़ार करना पड़ेगा।

व्यक्ति को अपने ही घर से ऑनलाइन माध्यम से खुद को रजिस्टर करना है तथा घर पर ही अपने अपॉइंटमेंट का इंतज़ार करना है और घर पर ही वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये डॉक्टर से परामर्श लेना है। 

ई-संजीवनी ओपीडी की मुख्य विशेषताएं क्या है?

ई-संजीवनी ओपीडी यानी स्टे होम ओपीडी (ऑनलाइन ओपीडी) को सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग (C-DAC) द्वारा विकसित किया गया है। इस वेब-आधारित राष्ट्रीय दूरसंचार सेवा (eSanjeevaniOPD) की मुख्य विशेषताएं  हैं:

  • ऑनलाइन पेसेंट पंजीकरण
  • ऑनलाइन टोकन जनरेशन
  • क्यू मैनेजमेंट
  • डॉक्टर के साथ ऑडियो-वीडियो परामर्श
  • ई प्रिस्क्रिप्शन (ऑनलाइन दवाई पर्चा)
  • एसएमएस/ ईमेल सूचनाएं
  • राज्य के डॉक्टरों द्वारा सेवित
  • नि: शुल्क सेवा (फ्री)
  • पूरी तरह से संगठित (दैनिक स्लॉट की संख्या, डॉक्टरों / क्लीनिकों की संख्या, प्रतीक्षा कक्ष स्लॉट, परामर्श समय सीमा आदि)

ई-संजीवनी ओपीडी में डॉक्टर से परामर्श लेने की टाइमिंग क्या है?

ई-संजीवनी ओपीडी (e-Sanjeevani OPD) की टाइमिंग अलग-अलग राज्य की अलग- अलग है, यदि आप अपने राज्य की टाइमिंग देखना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें (Click Here)। ज्यादातर टाइमिंग सुबह 9 से शाम 5 है।

संजीवनी ओपीडी (e-Sanjeevani OPD) के माध्यम से ऑनलाइन परामर्श कैसे लें?

यदि आप ईसंजीवनी ओपीडी (e-Sanjeevani OPD) के माध्यम से डॉक्टर के द्वारा ऑनलाइन परामर्श लेना चाहते हैं तो आपको निम्न 4 स्टेप के अनुसार वेबसाइट पर लॉगइन करना होगा।

Step 1

 

  • सर्वप्रथम आपको खुद को वेब पोर्टल पर रजिस्टर करना है, इसके लिए पेशेंट रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करें अब आपके सामने पेशेंट रजिस्ट्रेशन का एक फॉर्म खुलेगा जिसमें आपको अपना मोबाइल नंबर डालना है और अपना राज्य सलेक्ट सलेक्ट करना है।

  • इसके बाद आपसे ओपीडी के बारे में पूछा जाएगा आपको जनरल ओपीडी या स्पेशलिटी ओपीडी का ऑप्शन में से एक चुनना है।
  • उसके बाद सेंड ओटीपी के ऑप्शन पर क्लिक करें, आपके मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड आएगा जो आपको वहां भरना है।
  • पासवर्ड के माध्यम से आपका मोबाइल नंबर वेरीफाई को आप हो जायेगा।
  • इसके बाद आपको पेशेंट रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना है जिसमें आपसे आपकी जानकारी मांगी जाएगी।
  • फॉर्म भरने के बाद आपको अपने लिए एक टोकन नंबर जनरेट करना है जिसके लिए आपको रिक्वेस्ट टोकन करना होगा।
  • अगर कोई मेडिकल रिपोर्ट है आपके पास तो उसको अपलोड करना है।
  • इसके बाद आपके पास एसएमएस के द्वारा आपका पेशेंट आईडी और टोकन नंबर आ जाएगा।

Step 2

  • अब आपको अपना लोगिन करने के लिए इंतजार करना है इसके लिए आपके पास एक एसएमएस आएगा जिसमें आपको लॉग इन करने के लिए बोला जाएगा।

 

  • आपको अपनी पेशेंट आईडी के द्वारा लॉगइन (Login Click here) करना है और साथ में टोकन नंबर भी डालना है।

  • इस तरह आप लॉगिन कर पाएंगे।

Step 3

  • लॉग इन करने के बाद आप वेटिंग रूम में चले जाएंगे जिसके लिए एंटर वेटिंग रूम के ऑप्शन में जाना होगा।
  • वेटिंग रूम में जाते ही ई-संजीवनी ओपीडी पेशेंट के लिए एक डॉक्टर असाइन करता है।
  • वेटिंग टाइम पेशेंट के नंबर पर डिपेंड करता है।
  • डॉक्टर असाइन होते ही पेशेंट का कॉल नाउ बटन एक्टिवेट हो जाता है।
  • बटन के एक्टिवेट होते ही पेशेंट को 2 मिनट से पहले कॉल नाउ के बटन पर क्लिक करना है।

Step 4

  • आपका वीडियो कॉल शुरू होने के बाद आपको वीडियो में डॉक्टर दिखाई देने लगेंगे जिनसे आपको पपरामर्श लेना है।
  • इसके बाद आप डॉक्टर को अपना नाम और अपनी बीमारी के बारे में बताइए और उसके बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।
  • आपसे सब जानकारी लेने के बाद आपके लिए दवाई और टेस्ट का पर्चा बनाएंगे जो आपको प्रिसक्रिप्शन के रूप में ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त हो जाएगा।
  • इस तरह आप ई-संजीवनी ओपीडी के माध्यम से घर बैठे-बैठे डॉक्टरों का परामर्श प्राप्त कर सकते हैं।

गूगल प्ले स्टोर से ई-संजीवनी ओपीडी ऐप

आप गूगल प्ले स्टोर से ई-संजीवनी ओपीडी ऐप को अपने फोन में इंस्टॉल करके भी ऑनलाइन कंसल्टेशन प्राप्त कर सकते हैं। गूगल प्ले स्टोर से ई-संजीवनी ऐप को इंस्टॉल करने के लिए यहां क्लिक करें

ई-संजीवनी ओपीडी योजना सरकार द्वारा अपनी तरह की पहली योजना है और काफी कारगर योजना भी साबित हुई है। अभी तक ई-संजीवनी ओपीडी के माध्यम से काफी लोगों ने ऑनलाइन डॉक्टरों से कंसल्टेंसी ली है तथा इस कोरोना काल में घर बैठे-बैठे सलाह प्राप्त की है। तो यदि आप भी ऑनलाइन परामर्श प्रदान करना चाहते हैं तो बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें तथा ई-संजीवनी ओपीडी योजना का लाभ घर बैठे-बैठे प्राप्त करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *